गुड्डू गुप्ता
सोनौली महराजगंज।

भारत नेपाल बॉर्डर पर भारी तनाव को लेकर दोनों देशों के अधिकारियों ने बैठक कर मौजूदा हालात की जानकारी ली, एसएसबी महिला जवान के साथ मारपीट करने वाले गैंग पर कड़ी कार्यवाही करने का नेपाल प्रशासन ने आश्वासन दिया है।

जानकारी देते चले कि सोनौली बॉर्डर के दो नम्बर गली के नाम से प्रख्यात मार्ग पर तस्करी करने वाली कुछ नेपाली महिलाएं तस्करी समान लेकर बॉर्डर पार कर रही थी, जिसको लेकर सीमा पर तैनात एसएसबी महिला जवान ने रोका और पूछ्ताछ की जिस पर ग्रुप में नेपाली महिलाएं उक्त एसएसबी के ऊपर हमला बोल दिया, जिससे एसएसबी महिला जवान गंभीर रूप से घायल हो गई, इस घटना को लेकर भारत नेपाल के सुरक्षा एजेंसियां आमने सामने आ गई। वही नेपाल के लोग बॉर्डर के नोमेन्स लैंड पर प्रदर्शन करने लगे।

वही नेपाल की सीमा में एकत्रित हुवे लोगो के तरफ से भारत विरोधी नारेबाजी भी होने लगी, नेपाल के लोगो के तरफ से भारतीय मीडिया के खिलाफ भी नारे बाजी की गई। उक्त मामले को लेकर नेपाल के रुपनदेही विधायक संतोष पाण्डे से भारतीय मीडिया समूह ने मुलाकात की और उक्त घटना से सम्बंधित जानकारी दी तो विधायक ने कहा कि मीडिया देश की बहुत बड़ी ताकत है, और मैं भारतीय मीडिया से अपने देश की जनता के तरफ से माफी मांगता हूं।

नेपालियों द्वारा एसएसबी महिला जवान पर जानलेवा हमले को लेकर नेपाल के रुपनदेही एसपी ने कहा कि किसी देश के खिलाफ बेवजह विरोध एक शर्मनाक घटना है, वही नेपाल के रुपनदेही डीएम पीताम्बर धिमिरे ने कहा कि जिस किसी ने भी इस घटना को अंजाम दिया है उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही किया जाएगा, डीएम ने भारतीय मीडिया को बताया कि दोनों देशों का रिश्ता सदियों पुरानी है, इसे यू ही समाप्त नही किया जा सकता।

“महराजगंज जनपद के डीएम उज्ज्वल कुमार, सीओ नौतनवा ने नेपाली प्रशासन के साथ बेलहिया चौकी में बैठक हुई ” 

उक्त बैठक में भारत नेपाल के रिश्तों को लेकर चर्चा हुई, और भारतीय जवानों पर नेपालियों की तरफ से लगातार उलझने की घटना पर चर्चा हुई। डीएम उज्ज्वल कुमार ने कहा कि भारत नेपाल का यह सीमा अतिसंवेदनशील बॉर्डर है, यहां आपसी सौहार्द बनाएं रखा जाना अतिआवश्यक है। डीएम ने यह भी कहा कि घटना की जांच कर उचित कार्यवाही की जाएगी।

हालांकि भारतीय अधिकारियों के उपस्थिति पर देर रात्रि को बॉर्डर पर स्थित सामान्य हो गई।