Advertisement

कोलकाता: रैलियों में उड़ रहीं कोरोना नियमों की धज्जियां, EC ने 16 अप्रैल को बुलाई सर्वदलीय बैठक

कोलकाता: रैलियों में उड़ रहीं कोरोना नियमों की धज्जियां, EC ने 16 अप्रैल को बुलाई सर्वदलीय बैठक
बंगाल में चुनाव प्रचार के दौरान भारी संख्या में जुट रही भीड़ और कोरोना गाइडलाइंस के घोर उल्लंघन के बीच चुनाव आयोग ने अब 16 अप्रैल को कोलकाता में में सर्वदलीय बैठक बुलाई है.
देश में कोरोना वायरस महामारी का कहर जारी है. हर दिन डराने वाले आंकड़े सामने आ रहे हैं. इस बीच, चुनावी राज्‍य पश्चिम बंगाल की राजनीति सभाओं में उमड़ रही भारी भीड़ से कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां भी उड़ रही हैं. जिसे देखते हुए नए मुख्‍य चुनाव अधिकारी सुशील चंद्रा ने शुक्रवार को बंगाल के सभी राजनीति दलों की बैठक बुलाई है. जिसमें राजनीतिक दलों को कोरोना गाइडलाइंस का सख्ती से पालन करने के लिये कहा जाएगा. चुनाव आयोग ने बंगाल के चुनाव अधिकारी से इस बैठक को बुलाने को कहा है.बता दें कि पिछले कुछ दिनों से बंगाल में भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. इसे देखते हुए ममता बनर्जी सरकार ने बुधवार को महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल और तेलंगना से राज्य में आने वाले हवाई यात्रियों के लिए निर्देश जारी किया और कहा कि उन्हें अपने साथ आरटी-पीसीआर जांच की निगेटिव रिपोर्ट लानी होगी, जो विमान में सवार होने से अधिकतम 72 घंटे पहले की हो. एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी.उन्होंने बताया कि यह निर्देश देश में कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि को देखते हुए दिया गया है. उन्होंने कहा, ‘यात्री को बंगाल के लिए प्रस्थान करने से 72 घंटे पहले जांच करवानी होगी. आगमन पर जांच किए जाने का कोई प्रावधान नहीं है.’ अधिकारी ने बताया कि इसके साथ ही बंगाल उन 10 राज्यों में शामिल हो गया है, जिन्होंने इस प्रकार के प्रतिबंध लगाए हैं.

Advertisement