Advertisement

विवेक आर्य/वरिष्ठ पत्रकार जिला झाँसी

भाजपा के पूर्व विधायक प्रागीलाल अहिरवार की बहू ने सपा के पूर्व विधायक रश्मि की देवरानी को 2124 वोटो से हराया।

सपा के पूर्व विधायक रश्मि आर्य के देवर हेमंत सेठ ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख के पति ,भाजपा के बड़े नेता रमेश श्रीवास को हराया

मऊरानीपुर/झाँसी। जनपद में कुछ राजनैतिक घरानों के बीच चली आ रही राजनैतिक उठा-पठक का असर जिला पंचायत चुनाव में देखने को मिला। इस चुनाव में किसी ने अपना हिसाब चुकता किया तो किसी ने अपनी राजनैतिक विरासत को आगे बढ़ाया।

विधानसभा व स्थानीय निकाय चुनाव में चली आ रही परम्परागत प्रतिद्वंदिता जिला पंचायत चुनाव तक आ पहुँची।
मऊरानीपुर की स्यावरी सीट पर पूर्व विधायक प्रागीलाल व पुर्व विधायक रश्मि आर्य का परिवार फिर आमने सामने था । पिछले दो दशक से दोनों परिवार की राजनैतिक प्रतिद्वंदिता पूरे क्षेत्र में चर्चित हैं। अंततः स्यावरी सीट पर पूर्व विधायक प्रागीलाल की बहू रजनी ने पूर्व विधायक रश्मि आर्य की देवरानी और वर्तमान नगर पालिका मऊरानीपुर चैयरमैन हरिश्चंद्र आर्य की पत्नी मीरा आर्य को 2124 वोटो से पराजित कर दिया। इस तरह प्रागीलाल ने पिछले विधानसभा चुनाव में अपनी हार के बाद अपने पुत्र विनोद की पत्नी रजनी को जिताकर राजनैतिक वापिसी की है।
इस सीट पर रजनी को 12057 मत मिले बल्कि मीरा आर्य को 9933 मतों से ही सन्तोष करना पड़ा।

चुरारा जिला पंचायत सदस्य सीट पर सपा की पूर्व विधायक रश्मि आर्य ने अपने देवर व वर्तमान वर्तमान जिला पंचायत सदस्य हेमंत आर्य को जिताकर इस हार के दर्द को कम करने की कोशिश की है। उन्होंने भाजपा से पूर्व ब्लॉक प्रमुख के पति तथा भाजपा के बड़े नेता रमेश श्रीवाश का प्रतिष्ठित मुकाबले से पराजित किया । हेमन्त सेठ को 12 836मत मिले जबकि रमेश श्रीवास को 7425 वोट मिले।

Advertisement