108 एम्बुलेंस की सेवा न मिलने पर 112 की पुलिस टीम ने बाप बेटे की बचायी जान

0
52
Advertisement

बाइक से आरहे अपने 6 वर्षीय पुत्र के साथ खाई में गिरे व्यक्ति द्वारा बार- बार 108 नम्बर पर फोन करने के बाद भी जब एम्बुलेन्स नहीं आयी।तो डायल 112 नंबर पर सूचना देने पर तुरंत गाड़ी आ कर पिता पुत्र को अस्पताल पहुँचायी। जिस से पीड़ित व्यक्ति 108 की सेवा से काफी नाराजगी व्यक्त की है।
जनपद महराजगंज के ठूठीबारी कोतवाली अंतर्गत गडौरा पुलिस बूथ के ग्राम पंचायत नौनिया से जैकरन पुत्र धनुधारी मधेशिया व अपने साथ 6 वर्षीय बच्चा को बाइक पर बैठा कर अपने रिश्तेदारों से मिल कर अपने घर जा रहा था। रास्ते में इसी बीच एक ट्रक आ गई ।जिसे देखकर वह अपनी मोटरसाइकिल को साइड में रोक ही रहा था तभी उसका पैर खाई में पड़ने से बाइक सवार गिर गया जिससे बाइक सवार व्यक्ति व बच्चा दोनों को काफी चोटें आईं। वहाँ पर मौजूद लोग घटना स्थल पर पहुंच कर घायल व्यक्ति को उठाये। इस के बाद अंतरराष्ट्रीय मानवधिकार सुरक्षा संगठन जिला प्रमुख ने
108 नम्बर पर फोन की। परन्तु एम्बुलेंस घटना स्थल पर नहीं पहुची ।इस के बाद 112 नम्बर पर सूचना दी और सूचना मिलते ही112 नम्बर की गाड़ी घटना स्थल पर पहुंच गई ।
मानवधिकार मीडिया के संवाददाता से बताया गया कि 108 नंबर पर तीन बार फोन करने बाद भी जब एम्बुलेंस नही पहुची तो 112 नम्बर की पुलिस घायलों को इलाज के लिए निचलौल हॉस्पिटल में एडमिट करायी। तब दोनों की जान बच सकी।पीड़ित जैकरन पुत्र धनुधारी मधेशिया ने बताया कि पुलिस डिपार्टमेंट के दिवान दिलीप कुमार, कांस्टेबिल मनीष कुमार, बृजेश कुमार, की सहयोग काफी सहरानीय रही मानवधिकार सुरक्षा संगठन के जिला प्रमुख मुकेश कुमार यादव ने बताया कि दिन प्रतिदिन एम्बुलेंस वाले इतना लापरवाही कर रहे हैं कि सूचना देने पर भी घटना स्थल पर समय से नही पहुंच रहे हैं।

✍🏻 Reporter By@Vinod Verma/Mukesh Kumar Yadav✍🏻✍🏻

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here