माता -पिता और गुरु के ऋण से मुक्त नही हो सकता–प्रो हरेराम त्रिपाठी

वाराणसी
Share News

*माता -पिता और गुरु के ऋण से मुक्त नही हो सकता–प्रो हरेराम त्रिपाठी*

सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय,वाराणसी के कुलपति प्रो हरेराम त्रिपाठी ने आज गुरु पूर्णिमा पर्व पर अपने गुरु न्याय शास्त्र के उद्भट विद्वान महामहोपाध्याय आचार्य वशिष्ठ त्रिपाठी से मिलकर परम्परागत रूप से चरण वन्दन कर आशीर्वाद प्राप्त कर कहा कि माता,पिता और गुरु का ऋण कभी नही चुका सकता,ये ही तीनो लोक हैं,आश्रम हैं,ये ही तीनो वेद हैं और अग्नियाँ हैं।
कुलपति प्रो त्रिपाठी ने कहा कि ये तीनो के प्रति सदैव भाव पूर्ण श्रद्धा और आदर रखना चाहिये।
अजय कुमार उपाध्याय
रिपोर्टर
वाराणसी

IMG-20210724-WA0040.jpg

Ajay Kumar Upadhyay