जम्मु-कश्मीर के श्रीनगर डल झील में एशिया का पहला तैरता ओपन सिनेमा किया गया शुरू परांपरिक वेशभूषा में कलाकारों की प्रस्तुतियों ने बांध दिया समा

राज्य
Share News

जम्मु-कश्मीर के श्रीनगर डल झील में एशिया का पहला तैरता ओपन सिनेमा किया गया शुरू
परांपरिक वेशभूषा में कलाकारों की प्रस्तुतियों ने बांध दिया समा

जम्मु-कश्मीर के श्रीनगर डल झील में एशिया का पहला तैरता ओपन सिनेमा किया गया शुरू
परांपरिक वेशभूषा में कलाकारों की प्रस्तुतियों ने बांध दिया समा। कश्मीर में प्रमुख डल झील में एशिया का पहला तैरता ओपन सिनेमा शुरू हो गया है। शुक्रवार को परांपरिक वेशभूषा में कलाकारों की प्रस्तुतियों ने समा बांध दिया। इस दौरान लेजर शो विशेष आकर्षण का केंद्र बना। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आइकॉनिक वीक फेस्टिवल के आखिरी दिन श्रीनगर में एशिया का पहला तैरता ओपन सिनेमा शुरू किया गया। इस मौके पर रंगारंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया। लेजर शो विशेष आकर्षण का केंद्र बना। रंगबिरंगी रोशनी से जगमग शिकारे और उस पर पारंपरिक वेशभूषा में कलाकारों की प्रस्तुतियों ने समा बांध दिया। डल झील के बीचों बीच सिनेमा शुरू किए जाने से पहले शिकारा कार्निवाल का भी आयोजन किया गया। ओपन सिनेमा की खास बात यह है कि इसमें लोग डल झील पर आनंद लेते हुए फिल्म देख सकते हैं। इसके लिए एक बड़े हाउसबोट को सिनेमा स्क्रीन में बदला गया है, जिसमें एक साथ सैकड़ों लोग शिकारे में बैठे-बैठे फिल्म का आनंद ले सकते हैं। वह भी झील के नजारे देखते-देखते कश्मीर के पर्यटन विभाग के प्रमुख जीएन इट्टू के अनुसार एक हफ्ते तक चले महोत्सव में देश-विदेश से लोग शामिल हुए। उम्मीद है कि बड़ी संख्या में लोग कश्मीर आएंगे। जम्मू-कश्मीर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आयोजित आइकॉनिक वीक फेस्टिवल में जहां जम्मू-कश्मीर की परंपरा, कला, संगीत, नृत्य और इतिहास को लोगों के सामने लाने की कोशिश हुई, वहीं पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों को भी बढ़ाने पर जोर रहा। यह आयोजन 15 अगस्त, 2022 को देश की आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर किए जा रहे हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए 75वीं वर्षगांठ से एक साल पहले यानी 15 अगस्त 2021 से इन कार्यक्रमों को शुरुआत की गई है।
जोगिन्द्र सोहल पुलवामा कश्मीर

Yogesh Pawar