पत्रकार डॉ नरेंद्र अरजरिया को नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने किया सम्मानित

अन्य समाचार
Share News

पत्रकार डॉ नरेंद्र अरजरिया को नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने किया सम्मानित
टीकमगढ़। शुक्रवार को इंदौर में रवींद्र भवन इंदौर में पत्रकार महोत्सव में टीकमगढ़ जिले के पत्रकार डॉ नरेन्द्र अरजरिया को शव्द ऋषि सम्मान से सम्मानित हुए l तीन दिवसीय
स्टेट प्रेस क्लब द्वारा आयोजित भारतीय पत्रकारिता महोत्सव 14 से 16 अप्रेल के अंतर्गत शुक्रवार 15 अप्रेल 2022को रविन्द्र भवन इंदौर में नरेश मेहता स्मृति शब्द ऋषि सम्मान आयोजित किया गया । मूर्धन्य साहित्यकार श्री मेहता की जन्म शताब्दी वर्ष में म.प्र. के 15 रचनाधर्मी एवम 5 दिवंगत पत्रकारों को यह सम्मान दिया गया है। इन पत्रकार साथियो ने पत्रकारीय दायित्वों के साथ पुस्तक लेखन का भी उत्कृष्ट कार्य किया है आयोजन समिति ने बुंदेलखंड के एक मात्र पत्रकार डॉ नरेंद्र अरजरिया को इस सम्मान के लिऐ चयनित किया गया। जिस के उपरांत आज श्री अरजरिया को रविन्द्र नाट्य भवन इंदौर में में शब्द ऋषि सम्मान से नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी ने सम्मानित किया गया साथ ही डॉ अरजरिया की लिखी पुस्तक स्ट्रिंगर का भी विमोचन इसी मंच से किया गया इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के जानेमाने लोग उपस्थित रहे जिनमे विशिष्ट अथिति के रूप में कैलाश सत्यार्थी नॉवल पुरुस्कार विजेता, तुलसीराम सिलावट मंत्री मध्यप्रदेश शासन डाक्टर विमल दुवे जी साहित्य परिषद के निर्देशक यशवंत देशमुख चुनाव विश्लेषक और टेलीविजन की दुनिया के वरिष्ठ पत्रकार राजेश वादल मुख्य रूप से मंचासीन रहे। स्ट्रिंगर पुस्तक के विमोचन पर वरिष्ठ टेलीविजन के पत्रकार राजेश बादल ने कहा कि भारत की हिंदी पत्रकारिता में यह पहली पुस्तक है जिसने स्ट्रिंगर के दर्द और सफलता की कहानी को उजागर किया है भारत में कोई भी चैनल हो बिना स्ट्रिंगर के नहीं चल सकता है डॉक्टर नरेंद्र अरजरिया कहते हैं कि यह सम्मान उस बुंदेलखंड की उस पत्रकारिता का है जहां आजादी के बाद आज भी लोक मूलभूत सुविधाओं के लिए संघर्ष करते हैं और उनकी आवाज बनती है बुंदेलखंड की आंचलिक पत्रकारिता
डॉक्टर नरेन्द्र अरजरिया की इस उपलब्धि पर उन्हें उनके शुभचिंतकों ने उन्हें बधाई दी बधाई देने बालो में जितेंद्र सोनकिया ,धर्मेश त्रिपाठी ,सुरेन्द्र सिंह भदौरिया,राजीव रावत, अभिषेक श्रीवास्तव, दीपक तिवारी अरुण कुमार खरे ,राजेश नामदेव ,दिलीप देवलिया प्रशान्त सिंह गौर आदि मौजूद रहे।