शव को सड़क पर रखकर किया चक्का जाम का अक्तिमेंटम मिलने के बाद पुलिस ने दर्ज किया हत्या का मुकदमा

गोरखपुर
Share News


कैंपियरगंज तहसील क्षेत्र के पीपीगंज में रविवार को घर से लापता हुए युवक का शव पीएम के बाद मंगलवार की शाम घर पहुचने के बाद मुकदमा न दरक करने का आरोप लगाते हुए मृतक के परिजनों ने घर के सामने बढ़या रोड पर शव को रखकर सड़क पर बैठ गए।जिसके बाद पहुची पुलिस द्वारा तीनो आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जिसके बाद शव का अंतिम संस्कार देर शाम किया गया।
बता दे कि पीपीगंज नगर पंचायत के वार्ड नम्बर चार निवासी शैलेन्द्र यादव 26 वर्ष पुत्र किशोर यादव रविवार को तुन दोस्तो के साथ बढ़या चौक के टेढाबिर के पास राप्ती नदी में नहाने गया था,जिसके बाद सोमवार को सुबह तक घर न लौटने पर परिजनों ने जब तीनो साथियो से सख्ती बरती तो उन्होंने बताया कि नहाने के दौरान शैलेन्द्र नदी में डूब गया और वह तीनो डर के मारे इस बात की जानकारी किसी को नही दी।जिसके बाद पुलिस ने एनडीआरएफ की मदद से सोमवार को शव को नदी से ढूढ़ निकाला और उसके कपड़े जो घटनास्थल से काफी दूर फेंके गए थे तीनो की मदद से कपड़े भी बरामद कर लिए।जिसके बाद मृतक के पिता द्वारा तीनो दोस्तो पर उनके बेटे की हत्या कर साक्ष्य मिटाने का आरोप लगाते हुए मिली तहरीर के बाद तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया।शव को पीएम के लिए भेजकर पुलिस ने पीएम रिपोर्ट के मुताबिक कार्यवाही का भरोषा दिया था।
मंगलवार की शाम को मृतक शैलेन्द्र का शव जैसे ही घर पहुचा तो परिजनों ने पुलिस पर मुकदमा न दर्ज किए जाने का आरोप लगाते हुए घर के सामने बढ़या रोड पर शव को रखकर सड़क पर बैठ गए।घटना की जानकारी मिलने के बाद पिपिगंज एवं चिलुआताल की पुलिस भी पहुच गई लेकिन परिजन मुकदमा लिखने की बात पर अड़े रहे।आधे घण्टे तक चली बातचीत के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों अजीजुल वसीम आशुतोष के खिलाफ हत्या की का मुकदमा पंजीकृत कर परिजनों को कॉपी उपलब्ध कराई तब जाकर शव का अंतिम संस्कार किया गया जिसके बाद स्थिति सामान्य हुई। संवाददाता राजेश वर्मा कैंपियरगंज