बच्चों मे सामाजिक व व्यवहारिक बदलाव पर बाल हितधारकों को दिया गया प्रशिक्षण- सुधांशु शेखर शर्मा

सोनभद्र,

दुध्दी ब्लाक सभागार कक्ष मे एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का किया गया आयोजन

सोनभद्र। जिलाधिकारी सोनभद्र चन्द्र विजय सिंह के निर्देशन में जिला बाल संरक्षण अधिकारी सुधांशु शेखर शर्मा के आदेश के क्रम में 26 जुलाई 2023 को नोडल जिला बाल संरक्षण इकाई सोनभद्र द्वारा विकास खण्ड दुद्धी के सभागार मे एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण का संचालन जिला बाल संरक्षण इकाई से ओ आर डब्ल्यू शेषमणि दुबे द्वारा किया गया और प्रशिक्षण के संबंध में परिचर्चा भी की गई।

मौके पर उपस्थित कुल 42 हित धारकों को बच्चो में सामाजिक व व्यवहारिक बदलाव (एसबीसीसी), बाल विवाह, बाल तस्करी, बाल भिक्षावृत्ति, बाल यौन उत्पीडन एवं बाल श्रम रोकथाम हेतु एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण के दौरान श्रम प्रवर्तन अधिकारी दुद्धी राम कुमार द्वारा बालश्रम पर रोकथाम एवं प्रभावी अंकुश लगाने हेतु की जा रही कार्य विधियों पर चर्चा की गई तथा बताया गया यदि कोई बालक या बालिका जिसके अभिभावक माता-पिता में से कोई एक या दोनों नहीं है उसे शिक्षा के लिए ₹1000 प्रतिमाह सरकार द्वारा शिक्षा सहायता दिया जाएगा।

संरक्षण अधिकारी रोमी पाठक द्वारा बाल भिक्षावृत्ति रोकथाम के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई । ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि व सेवानिवृत्त न्यायाधीश राजन चौधरी द्वारा बाल श्रम प्रतिषेध अधिनियम एवं बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम आदि पर चर्चा करते हुए बताया गया कि यदि कोई नाबालिक लड़का या लड़की की शादी करता है या शादी में उपस्थित रहता है तो वह सभी अपराधी होंगे एवं बाल विवाह रोकथाम हेतु विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की गई ।थाना एएचटीयू से अमन द्विवेदी द्वारा मानव तस्करी पर प्रभावी रोकथाम हेतु चलाए जा रहे अभियान एवं गतिविधियों पर विस्तृत चर्चा करते हुए सभी को प्रशिक्षित किया।

विशेष किशोर पुलिस इकाई से मंजीत पटेल द्वारा पाक्सो एक्ट के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई। प्रशिक्षण के अंत में ग्राम स्वराज समिति के द्वारा बाल विवाह, बाल तस्करी आदि की रोकथाम हेतु शपथ दिलाई गई। मौके पर थाना एचटीयू से उप निरीक्षक हरिदत्त पाण्डेय, जिला बाल संरक्षण समिति के सदस्य धर्मेन्द्र कुमार पाण्डेय, थाना दुद्धी से महिला आरक्षी आरती वर्मा, ग्राम स्वराज समिति दुद्धी के सचिव महेशानन्द, परियोजना कार्यालय से मुख्य सेविका चंद्रावती देवी, सुधा अंजुला रानी, आंगनवाड़ी कार्यकत्री व ग्राम प्रधान तथा स्वैच्छिक संगठन आदि के लोग उपस्थित रहे।