एनटीपीसी रिहंद में आस-पास के गाँवों की बालिकाओं के लिए तीन दिवसीय प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रशिक्षण का हुआ आयोजन

सोनभद्र,

बीजपुर(सोनभद्र)। एनटीपीसी रिहंद में आस-पास के गाँवों की बालिकाओं के लिए तीन दिवसीय प्रतियोगी परीक्षाओं के प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण का आयोजन नैगम सामाजिक दायित्व के अंतर्गत केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के सहयोग से कर्मचारी विकास केंद्र में 07 अगस्त से 09 अगस्त तक किया गया। इस कार्यक्रम में कुल 70 बालिकाओं ने उत्साहपूर्ण भागीदारी दिखाई, जिसका उद्देश्य आवश्यक कौशल और ज्ञान से परिपूर्ण कराना था। प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रतिभागियों के दृष्टिकोण को विस्तारित करने के लिए विभिन्न विषयों पर ज़ोर दिया गया। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं में भारतीय बलों के विभिन्न क्षेत्रों में पात्रता मानदंडों का परिचय, महिला सशस्त्र बलों में उपलब्ध अवसरों पर प्रकाश, प्रतिस्पर्धी परीक्षा की किस प्रकार तैयारी करें, और शारीरिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए प्रतिदिन योगा एवं कसरत के अभ्यास पर चर्चा की गई। इसके अलावा प्रतिभागियों को प्रतिस्पर्धी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अंग्रेजी भाषा की प्रशिक्षण दी गयी और उन्हें एनटीपीसी रिहंद की वरिष्ठ महिला कर्मचारियों द्वारा दिए गए प्रेरणादायक व्याख्यानों से प्रेरित किया गया। पूरे प्रशिक्षण के दौरान, सेना या सरकारी परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए स्वस्थ जीवनशैली के महत्ता पर भी बल दिया गया। इस अवसर पर पंकज मेदिरत्ता, महाप्रबंधक (अनुरक्षण एवं प्रचालन) ने कहा कि हम यह पहल लैंगिक समानता को बढ़ावा देने और सभी के लिए समान अवसर प्रदान करने के लिए हमारे समर्पण को दर्शाती है। इस प्रशिक्षण के माध्यम से, हमारा लक्ष्य है बालिकाओं को सशक्त बनाना और उन्हें बड़े मंच पर प्रतिस्पर्धा करने के लिए तैयार करना।कार्यक्रम के दौरान जाकिर खान अपर महाप्रबंधक (मानव संसाधन) ने सामाजिक प्रगति के लिए एनटीपीसी रिहंद के अटूट समर्पण पर जोर दिया और कहा कि इस तरह का प्रशिक्षण न केवल बालिकाओं को एक आशाजनक भविष्य की ओर मार्गदर्शन कराता है बल्कि जिम्मेदार नागरिकों के रूप में उनके विकास को भी बढ़ावा देता है।नैगम सामाजिक दायित्व के अंतर्गत आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के हिस्से के रूप में एनटीपीसी रिहंद का व्यापक तीन दिवसीय कौशल वृद्धि प्रशिक्षण कार्यक्रम बालिकाओं को सशक्त बनाना था। कार्यक्रम में मुख्य रूप से महाप्रबंधक (प्रचालन एवं अनुरक्षण) पंकज मेदिरत्ता, अपर महाप्रबंधक (मानव संसाधन) जाकिर खान वरिष्ठ प्रबन्धक (मानव संसाधन) श्रीमती तनुजा सिंह, कार्यपालक (नैगम सामाजिक दायित्व) सुश्री नरगिस और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के वरिष्ठ अधिकारी एवं जवानों के साथ-साथ प्रशिक्षण प्राप्त कर रही बालिकाएँ उपस्थित रहीं।