प्रमुख समाचार

महाकुम्भ 2025 को दिव्य एवं भव्य बनाने के दृष्टिगत क्रियान्वित किए जा रहे कार्यों की अद्यतन स्थिति एवं गुणवत्ता की जांच हेतु मण्डलायुक्त श्री विजय विश्वास पंत ने आज संबंधित अधिकारियों के साथ विभिन्न कार्यों का निरीक्षण किया। सर्वप्रथम अलोपीबाग स्थित लो०नि०वि० की पान्दून वर्कशाप का निरीक्षण करते हुए वहां हो रहे कार्यों का अवलोकन किया। पान्टून बनाने की पूरी प्रक्रिया को समझते हुए उन्होंने आ रही समस्याओं को सुना तथा विभागीय अधिकारियों को सभी कार्यों को जून 2024 तक पूर्ण कराने के निर्देश देते हुए इसके दृष्टिगत एक कार्ययोजना एवं मैटेरियल प्रक्योरमेंट प्लानिंग प्रेषित करने को कहा। साथ ही इस संबंध में मासिक प्रगति रिपोर्ट भी उपलब्ध कराते रहने के निर्देश दिए।

तत्पश्चात् झुंसी गारापुर मार्ग के चौड़ीकरण संबंधित कार्यों का निरीक्षण किया जिसके दौरान मार्ग पर गढ्ढा खुदवाकर वहां लगाये गये मैटेरियल की सैम्पलिंग करायी गयी। सैम्पलिंग कराने पर प्रयोग किये गये मैटेरियल की थिकनेस एवं अनुपात में कुछ कमी पाई गई जिसे शीघ्र ठीक कराकर संबंधित अधिकारी को सचेत करने के निर्देश दिए गए । डम्पिंग जोन में रखे मैटेरियल की भी गुणवत्ता की जांच की गयी तथा जिस मिक्सिंग प्लांट से मैटेरियल उपयोग हेतु लाया जा रहा है उसका कैलेबरेशन भी संबंधित अधिकारियों को कराने के निर्देश दिए गए।

हेतापट्टी पर 132 के0वी0ए0 ट्रांसमिशन हेतु कराये जा रहे कार्यों का भी निरीक्षण किया गया जिसके अन्तर्गत वहां बनायी जा रही बाउन्ड्री तथा प्रयोग में लाये जा रहे मैटेरियल का अवलोकन कर थर्ड पार्टी द्वारा सैम्पलिंग कराकर वहाँ के मैटेरियल की जांच के निर्देश दिए गए। अगरापट्टी सम्पर्क मार्ग के चौडीकरण के कार्यों का भी निरीक्षण किया एवं वहां पर भी रैण्डम सैम्पलिंग कराकर थर्ड पार्टी इन्स्पेक्शन कराने के निर्देश दिए।

निरीक्षण के पश्चात् मण्डलायुक्त की अध्यक्षता में विभिन्न विभागों द्वारा कियान्वित की जा रही परियोजनाओं की भी समीक्षा की गयी जिसमें जहां भी अभी तक कार्य प्रारम्भ नहीं हो सके हैं उनकी टेण्डर प्रक्रिया सुचिता पूर्वक शीघ्र पूर्ण कर कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश दिए गए। शहर के विभिन्न स्थानों पर वन विभाग द्वारा किए जा रहे पौध रोपण के कार्य की समीक्षा करते हुए सभी जगह मौसम के अनुरूप पौधे लगाने के निर्देश दिए। साथ ही स्वरूप रानी नेहरू अस्पताल में भीड़ को देखते हुए एक अतिरिक्त मार्ग बनाने के सुझाव पर भी चर्चा की गयी। लो०नि०वि० द्वारा बनायी जा रही सड़कों की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के दृष्टिगत मुख्य अभियन्ता से संबंधित अवर अभियन्ता, सहायक अभियन्ता अथवा अधिशासी अभियन्ताओं से इन्स्पेक्शन रिपोर्ट अनिवार्य रूप से प्रेषित करने के निर्देश दिए गए।।