जिला उपायुक्त की अध्यक्षता में हुई जिला स्तरीय अनुमोदन समिति की बैठक

झारखंड

कल्याण विभागीय विभिन्न योजनाओं में समिति ने लिया निर्णय, 5870 छात्रों को पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लिए 6 करोड़ 11 लाख रू. का अनुमोदन

जमशेदपुर (झारखंड)। समाहरणालय सभागार, जमशेदपुर में जिला दण्डाधिकारी सह उपायुक्त श्री अनन्य मित्तल की अध्यक्षता में अध्यक्षता में कल्याण विभागीय योजनाओं से जुड़ी अनुमोदन समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में माननीय सासंद एवं विधायकगण के प्रतिनिधि, संबंधित जिला परिषद सदस्य, डीएफओ श्री सबा आलम अंसारी, उप विकास आयुक्त श्री मनीष कुमार, पीडी आईटीडीए श्री दीपांकर चौधरी, जिला कल्याण पदाधिकारी श्री राजेन्द्र गुप्ता, जिला शिक्षा अधीक्षक तथा अन्य संबंधित पदाधिकारी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के अंतर्गत कुल 285 लाभुकों के प्रस्ताव पर समिति ने अनुमोदन किया जिसमें 150 आदिम जनजाति, 27 आदिम जाति, ओबीसी के 102 तथा 03 दिव्यांग एवं 03 अल्पसंख्यक लाभुक शामिल हैं। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सहायता योजना में 04 प्रखंडों से प्राप्त हुए 165 आवेदनों में से 01 आवेदक को मुख्यमंत्री असाध्य रोग योजना के तहत लाभ दिए जाने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया गया। तथा अन्य 164 योजनाओं को जांचोपरांत अनुमोदित किया गया। जिला दण्डाधिकारी सह उपायुक्त द्वारा सभी प्रखंडों के योग्य लाभुकों को योजना का लाभ देने हेतु निर्देशित किया गया।

एफ.आर.ए के तहत प्राप्त व्यक्तिगत वन पट्टा के 167 व सामुदायिक वन पट्टा के 13 आवेदनों पर समिति ने चेकलिस्ट तैयार कर एफ.आर.ए 2006 के अनुरूप संशोधन के साथ अगली बैठक में प्रस्ताव बढ़ाने का निर्देश दिया गया।

मुख्यमंत्री पशुधन विकास योजना के तहत 463 लक्ष्य के विरूद्ध कुल प्राप्त 1339 आवेदनों में से 463 आवेदनों पर जांचोपरांत अनुमोदन करने का निर्णय लिया गया। इसमें बकरा पालन के 115, सुकर पालन के 46, ब्रॉयलर कुक्कुट पालन के 24, लेयर कुक्कुट पालन के 46 तथा बत्तख पालन के 232 लाभुक शामिल हैं।

वहीं पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के लाभ को लेकर बताया गया कि 22425 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिनमें 8226 आवेदन विभिन्न शिक्षण संस्थान द्वारा अबतक अप्रूव किया गया है जिनमें 5870 छात्रों को 6 करोड़ 11 लाख रू, छात्रवृत्ति राशि के भुगतान की घटनोत्तर स्वीकृति दी गई।