उन्नाव

एक तो वसूली, विरोध पर विद्युत कर्मी की बिगड़ रही बोली, पत्रकार को दी फोन पर गाली

मीटर लगाने एवं नये विद्युत कनेक्शन में प्राइवेट कर्मचारी कर रहे अवैध वसूली

उपभोक्ताओं से मीटर लगाने के नाम पर 200 से ₹500 तक की अवैध वसूली

उन्नाव। अपने कारनामों से विद्युत विभाग कर्मचारी लगातार चर्चाओं में बने रहते हैं कहीं मीटर के नाम पर वसूली तो कहीं चेकिंग के नाम पर महिलाओं से छेड़खानी जैसे तमाम मामले इस बीच मीडिया की सुर्खियों में देखे जा सकते हैं मनोबल इतना बढ़ा है कि कहीं से उनका कुछ ना बिगाड़ लेने की धमकी देते हैं साथ ही अंत में डिवीजन में बुलावा देकर पत्रकार को गाली देकर फोन काट देते हैं, आखिर किसकी सह पर यह प्राइवेट कर्मचारी वसूली सहित गाली देने का कार्य करते हैं।

यह एक बड़ा सवाल है आखिरकार इस मामले में भी कुछ ऐसा ही हुआ लेकिन जब मामला मौरावां थाने पहुंचा तो जनाब दूसरों से फोन करवाकर गिड़गिड़ाने लगे कि माफ कर दो गलती हो गयी। घटना के बाद ग्रामीणों मे भी आक्रोश व्याप्त है वह इस मामले शिकायती पत्र देने की बात कह रहे है।

ताजा मामला उन्नाव जनपद के मौरावा फीडर के अंतर्गत ग्राम संदाना के बोध सिंह गांव का है। जहां मौरावां फीडर के विद्युत कर्मी विशाल श्रीवास्तव मीटर लगाने के लिए बोध सिंह गांव पहुंचे। जहां मीटर लगाने के लिए उपभोक्ताओं से ₹200 की मांग की जिस पर देशराज नाम एक उपभोक्ता ने विद्युत कर्मी को दो सौ रुपए दिये।

वही मामला जब उसी गांव के एक पत्रकार के संज्ञान में आया तो उसने पैसे वापस करने की बात की तो विद्युत कर्मी ने पैसे देने से मना कर दिया और कहा बहुत देखे तुम्हारे जैसे पत्रकार मैं पैसा वापस नहीं करूंगा तुमको जो उखाड़ना है उखाड़ लो, मैं ऐसे नहीं बना हूं विद्युत कर्मी, मेरी पकड़ बहुत ऊपर तक है के साथ में अपशब्दों मे गाली का भी प्रयोग किया।

घटना के बाद जब मामला पत्रकार संगठन भारतीय पत्रकार महासभा को पता चला तो संगठन पदाधिकारी राष्ट्रीय कार्यकारणी अध्यक्ष ने पत्रकार से विद्युत कर्मी के खिलाफ नजदीकी थाने में शिकायती पत्र दर्ज करवाया। अब देखना यह है कि उस नंबर की ऑडियो रिकार्डिग बाद उस बिजली विभाग कर्मचारी पर क्या कार्यवाही होती है यह तो समय तय करेगा। फिर हाल फोन पर कर्मचारी के माफ करने की सिफारिस की जा रही है।

Back to top button